ओमीक्रॉन वैरिएंट क्या है और कितना खतरनाक है ? | Omicron Variant in India

Omicron Variant in Hindi | ओमीक्रॉन वैरिएंट क्या है ?

Omicron Variant in India – जब ऐसा लगने लगा था कि अब कुछ दिनों या महीनो में कोरोना वायरस पूरी दुनिया से खत्म हो जायेगा और हम फिर से पहले जैसे Normal Life जीने लगेंगे | तभी साउथ अफ्रीका में बीते 24 नवम्बर को कोरोना वायरस के एक नए वैरिएंट ओमीक्रॉन वैरिएंट ( B.1.1.529) के बारे में पता चला |

तब से अब तक यानि 04 दिसंबर 2021 तक, यह नया वैरिएंट 35 देशो में फ़ैल चूका है और अब तक इन देशों में लगभग 600 -700 लोग संक्रमित हो चुके है और साथ ही साथ संक्रमण का दायरा बढ़ता ही जा रहा है | जो कि काफी चिन्तनीय विषय है |

एक्सपर्ट्स का कहना है, जिस तरह से कोरोना के दूसरी लहर के लिए डेल्टा वैरिएंट जिम्मेदार था | उसी प्रकार तीसरी लहर के लिए ओमीक्रॉन जिम्मेदार होगा |

ओमीक्रॉन वैरिएंट कितना खतरनाक है ?

एक्सपर्ट्स के अध्ययन और अन्य शोधो से यह पता चला है कि यह ओमीक्रॉन वैरिएंट डेल्टा वैरिएंट के मुकाबले 5 गुना से भी ज्यादा रफ्तार से फैलता है |

ओमीक्रॉन वैरिएंट की इसी भयावहता की वजह से W.H.O. ( World Health Organization ) ने इसे Variant of Concern ( VOC ) |

Omicron Variant पहले के Delta Variant के मुकाबले अपना रूप बदलने ( Mutation ) में माहिर है | अब तक ओमीक्रॉन वैरिएंट में लगभग 50 mutation ( परिवर्तन ) हो चुके है | जिसमे से 30 म्युटेशन उसके स्पाइक प्रोटीन में हुए है |

जबकि, डेल्टा वैरिएंट के केवल 18 म्युटेशन ( परिवर्तन ) जाँच में सामने आये थे |

आपको यह जानना जरुरी है कि इसी स्पाइक प्रोटीन के जरिये यह इंसानी शरीर में प्रवेश करता है |

ओमिक्रोन का पता कैसे लगाया जाता है ?

W.H.O. के अनुसार RT-PCR विधि से इस वैरिएंट की पहचान की जा सकती है | हालांकि, WHO के अनुसार ओमीक्रॉन की सही पहचान के लिए Genome Sequencing माध्यम ही जरुरी है |

यह भी पढ़े : Genome Sequencing क्या है ?

ओमीक्रॉन वैरिएंट के लक्षण क्या है ? | Symptoms of Omicron variant

वैसे तो ओमीक्रॉन के कोई विशेष लक्षणों के बारे में कोई रिपोर्ट सामने नहीं आई है | फिर भी अब तक जितने भी Omicron Positive Patient मिले है , उनमें निम्न लक्षण पाए गए है |

  • मांस पेशियों में दर्द होना , ऐंठन होना आदि |
  • गले में दर्द, सीने में दर्द , सांस लेने में तकलीफ होना आदि |

ओमीक्रॉन से बचाव कैसे करे ? | How to prevent from Omicron Variant?

  • ओमीक्रॉन से बचाव के लिए लोगो से २ गज की दुरी रखना चाहिए |
  • भीड़भाड़ वाले जगहों में जाने से बचना चाहिए |
  • हमेशा N95 category के अच्छे मॉस्क पहनना चाहिए |
  • वैक्सीन के दोनों dose जरूर लगवाना चाहिए |
  • यदि डॉक्टरों और एक्सपर्टस के द्वारा भविष्य में बूस्टर डोस लेने की सलाह दी जाती है तो उसे भी जरूर लगवाना चाहिए |
  • ज्यादा उम्र के लोगों को विशेष ध्यान रखने की जरूरत है |
  • संभव हो तो शादी ब्याह व अन्य पारिवारिक समारोह जहाँ ज्यादा भीड़ जुटने की सम्भावना है, उसमे जाने से बचना चाहिए |
  • किसी भी प्रकार के रैली आदि में जाने से बचना चाहिए |
  • समय समय पर अपने हाथो और सामानो को अच्छे अलकोहल युक्त Sanitizer से sanitize करते रहे |
  • गर्म पानी पीते रहे |
  • फल सब्जियों को अच्छे से धो कर फिर इस्तेमाल में लाना चाहिए |
  • हर समय , हर जगह Covid Protocol का पालन करना चाहिए |
  • ओमीक्रॉन से बचाव के लिए Natural Immunity Power को बनाये रखने की जरूरत है |

Omicron Variant के बारे में नीचे दिए गए Web Stories को भी जरूर देखे |

यह भी पढ़े :

1. इम्युनिटी क्या होता है ?

2. इम्युनिटी पावर कैसे बढ़ाए |

3. होम आइसोलेशन का मतलब क्या होता है ?

4. वैक्सीनेशन क्या होता है और इसके क्या फायदे होते है ?

Conclusion about Omicron Variant in India

आशा है आपको Omicron Variant in India के बारे ऊपर दी गई जानकारी ज्ञानवर्धक लगी होगी | अपने विचार हमें कमेंट के माध्यम से नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताये |

हमारे ब्लॉग के अन्य ज्ञानवर्धक पोस्ट को पढ़ने के लिए Home Page पर जाए |

Sharing is caring!

Leave a Comment

omicron variant meaning in hindi Immunity meaning in Hindi