What is omicron variant in India ? How to Prevent from Omicron ? 

Green Sun

If साउथ अफ्रीका में बीते 24 नवम्बर को कोरोना वायरस के एक नए वैरिएंट ओमीक्रॉन वैरिएंट ( B.1.1.529) के बारे में पता चला |  अब तक के जाँच और रिसर्च से पता चला है कि कोरोना का यह नया वैरिएंट , डेल्टा वैरिएंट के मुकाबले 6 गुणा ज्यादा फैलने वाला है | 

Omicron variant

01

इस ओमीक्रॉन वैरिएंट को WHO ने भी Variant of Concern ( VoC) घोषित कर रखा है | अब तक यह 50  से भी ज्यादा देशों में फ़ैल चूका है | भारत में अब तक इसके लगभग 2000 से  ज्यादा मरीज सामने आ चुके है | 

Omicron Variant 

02

Mutant of omicron

03

अब तक ज्ञात जानकारी के अनुसार ओमीक्रॉन के 50 म्युटेंट का पता चला है  | यानि अब तक यह 50 विभिन्न रूप बदल चूका है जबकि डेल्टा के केवल 18 म्युटेंट का पता चला था |  स्पाइक प्रोटीन के जरिये यह इंसानी शरीर में प्रवेश करता है |  |

ओमिक्रोन का पता कैसे लगाया जाता है ?

04

ओमीक्रॉन का पता Genome Sequencing से लगाया जाता है | क्योंकि RT-PCR से यह वैरिएंट ठीक से पकड़ में नहीं आता है |  WHO ने भी Genome Sequencing को इसके जाँच के लिए Recommend किया है |   |

ओमीक्रॉन वैरिएंट के लक्षण क्या है ?

05

– मांस पेशियों में दर्द होना , ऐंठन होना आदि | – गले में दर्द, सीने में दर्द , सांस लेने में तकलीफ होना आदि |   |

ओमीक्रॉन वैरिएंट से बचाव 

06 

- हमेशा मास्क पहनना चाहिए  - लोगो से २ गज की दुरी रखनी चाहिए |  - भीड़भाड़ वाले जगहों में जाने से बचना चाहिए |  - वैक्सीन के दोनों dose जरूर लगवाना चाहिए |  - यदि बूस्टर dose की बात होती है तो उसे भी जरूर लगवाए |   |

ओमीक्रॉन के बारे में और ज्यादा जानकारी के लिए |  यह ब्लॉग पोस्ट जरूर पढ़े !!

अपनी इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए |  यह ब्लॉग पोस्ट जरूर पढ़े |

www.hindimemeaning.com